Amazing Facts Animals In Hindi

खरगोश के बारे में ८५ रोचक तथ्य | Rabbit In Hindi (85 Interesting Facts And Information)

About Rabbit In Hindi

About Rabbit In Hindi | Information About Rabbit In Hindi

Amazing Facts About Rabbit In Hindi

Rabbit In Hindi : लंबे कानों और सामने के बड़े दांतों वाला छोटा सा सुंदर जीव है खरगोश (Rabbit), जो अपनी चंचल प्रवृत्ति के कारण सबको बहुत प्यारा लगता है. यह लेपोरीडी (Leporidae) परिवार का एक छोटा स्तनपायी जानवर है, जिसमें खरहा (Hare) और पिका (Pika) भी सम्मिलित है. जंगलों, घास के मैदानों, मरूस्थलों और पानी वाले इलाकों में ये मुख्य रूप से पाए जाते है. आज इस लेख में आप आपसे खरगोश के बारे में 85 रोचक जानकारियाँ (85 Interesting Information On Rabbit) शेयर कर रहे हैं. आइये जानते हैं खरगोश के बारे में रोचक तथ्य (Interesting Facts About Rabbit) :   

Scientific Specification Of Rabbit

खरगोश का वैज्ञानिक वर्गीकरण 

 जगत (Kingdom)  प्राणी (Animalia)
 संघ (Phylum)  रज्जुकी (Chordata)
 उपसंघ (Subphylum)  कशेरुकी (vertebrata)
 वर्ग (Class)  स्तनधारी (Mammalia)
 गण (Order)  खरहारुपी (Lagomoepha)
 कुल (Family)  खरहादृष्ट (Leporidae) in part

01-10 Interesting Facts About Rabbit In Hindi


1. दुनिया में पालतू खरगोश (Domestic Rabbit) की लगभग 305 और जंगली खरगोश की लगभग 13 प्रजातियाँ हैं.

2. खरगोश मनुष्य की तरह स्तनधारी (mammals) जीव हैं. मनुष्यों की तरह वे भी गर्म रक्त वाले होते हैं. उनमें बाल या फर होते हैं. वे बच्चे जन्मते हैं तथा मादाएं अपने बच्चों के लिए दूध का उत्पादन करती हैं.

3. 1912 के पूर्व खरगोश रोडेंट्स अर्थात् चूहे और गिलहरी के श्रेणी में सम्मिलित किये गये थे. लेकिन बाद में उन्हें लैगोफार्मा अर्थात् खरहा (Hare) और पिका की श्रेणी में सम्मिलित कर लिया गया.

4. अंटार्कटिका (Antarctica) महाद्वीप को छोड़कर खरगोश (Khargosh) दुनिया के हर स्थान में पाए जाते हैं.

5. दुनिया के आधे से अधिक खरगोश उत्तरी अमेरिका (North America) में पाए जाते हैं.

6. वैज्ञानिक मानते हैं कि खरगोशों की उत्पत्ति यूरोप और अफ्रीका में हुई थी. तीव्र प्रजनन में समर्थ होने के कारण वे शीघ्र ही पूरी दुनिया में फैल गए. हाल की के कुछ सालों में खरगोशों को उन द्वीपों और दूरदराज के क्षेत्रों में ले जाया गया है, जहाँ वे स्वाभाविक रूप से नहीं पहुँच पाए थे.

7. मध्य युग के आरंभ से मनुष्यों ने खरगोशों को पालना शुरू कर दिया था. उस दौरान वे पशुधन (livestock) के रूप में रखे जाते थे. उस समय खरगोशों के रंग, आकार, या फर पैटर्न में कई विविधताएं नहीं पाई जाती थीं.

8. खरगोश की औसतन लंबाई 40-50 cm होती है और वजन 1.5-2.5 Kg होता है.

9. मादा खरगोश को ‘doe’ कहा जाता है. नर खरगोश को ‘buck’ कहा जता है. ‘doe’ और ‘buck’ व्यस्क हिरणों को भी कहा जाता है. लेकिन खरगोशों के बच्चों को को हिरण के बच्चों की तरह ‘fawns’ नहीं कहा जाता है. उन्हें ‘kits’ कहा जाता है.

10. पालतू खरगोश का जीवनकाल लगभग 8 साल होता है. अच्छा पोषण मिलने पर वह 10 से 12 साल तक भी जीवित रह सकता है. लेकिन जंगली खरगोश 2 या 3 वर्षों से अधिक जीवित नहीं रह पाते.


11-20 Interesting Information Of Rabbit In Hindi


11. खरगोशों के सिर्फ पंजों में ही पसीना आता है.

12. घोड़ों की तरह खरगोश भी उल्टी करने में असमर्थ होते हैं.

13. खरगोशों की दृष्टि क्षमता तीव्र होती है. सिर पर ऊँचाई में दोनों साइड पर स्थित होने के कारण वे अपने आसपास लगभग 360 डिग्री में देख सकते हैं. यही कारण है कि खरगोश से छुप पाना लगभग असंभव होता है. वे अपने सिर के ऊपर भी देख सकते हैं.

14. खरगोशों (Rabbits) के चेहरे के ठीक सामने और नाक के ऊपर 10 डिग्री का एक blind spot होता है. इसलिए बहुत करीब से वह चीज़ों को अच्छी तरह देख नहीं पाते. वे दूर से चीज़ों को बेहतर ढंग से देख सकते हैं.

15. खरगोश कलर ब्लाइंड नहीं होते, लेकिन लाल रंग ठीक से न देख पाने के कारण रंगों को देखने की उनकी क्षमता सीमित होती है.

16. खरगोश दिन में 1 से 18 बार तक झपकी लेते हैं और लगभग 8 घंटे सोते हैं. वे अपनी आँखें खोलकर भी सो सकते हैं.

17. खरगोशों के फेफड़े (Lungs) एक जैसे नहीं होते हैं. उनके बाएं फेफड़े में 2 lobes होते हैं, जबकि दाएं में 4. इस कारण खरगोशों का बांया फेफड़ा दायें से काफी छोटा होता है. लेकिन जब तक स्वस्थ हों, तो इन्हें सांस लेने में कोई कठिनाई नहीं होती.

18. खरगोश का दिल 1 मिनट में 120-150 बार धड़कता है.

19. खरगोश के दांत जीवन भर बढ़ते रहते हैं. यही कारण है कि वे हमेशा कुछ न कुछ चबाते हुए देखे जा सकते हैं. इस तरह वे अपने दांतों को घिसते रहते हैं. यदि रोगवश या अन्य किसी कारणवश वे चबा न सके, तो उनके दांत मुँह के बाहर आ जायेंगे या उनके होंठों को भेद देंगे.

20. खरगोशों में लगभग 100 मिलियन गंध कोशिकायें होती हैं. इस तरह उनकी सूंघने की शक्ति तेज होती है. वे जमीन में दबा भोजन भी आसानी से सूंघ सकते हैं.


21-30 Interesting Information On Rabbit In Hindi


21. मनुष्यों की तरह खरगोश भी मीठा, खट्टा, नमकीन और कड़वा स्वाद ले सकते हैं. उनकी छोटी जीभों पर लगभग 17,000 स्वाद कलिकाएं (taste buds) होती हैं, जिनके द्वारा ख़रगोश इन समस्त स्वादों में अंतर जान पाते हैं. जंगल में इन स्वाद कलिकाएं की मदद से वे विषैले और समान्य पौधों में भी अंतर कर सकते हैं.

22. खरगोशों की श्रवण शक्ति तीव्र होती है. खरगोश 2 मील दूर तक की आवाज़ आसानी से सुन सकते हैं. इससे उन्हें शिकारियों का पता लगाने में मदद मिलती है.

23. खरगोश अपने कान 180 डिग्री तक मोड़ सकते हैं. इसका अर्थ यह हुआ है कि वे सामने से, साइड से और सीधे अपने पीछे से आ रही आवाज़ को आसानी से सुन सकते हैं.

24. तेज हवा खरगोश की सुनने की क्षमता में हस्तक्षेप कर सकती है. जब तेज हवा चल रही होती है, तब जंगली ख़रगोश अपनी भूमिगत मांद में रहते हैं. पालतू खरगोशों को खुली खिड़की से आने वाली हवा या कमरे में चलता हुआ पंखा परेशान कर सकता है.

25. सभी खरगोश हमेशा हाई अलर्ट पर रहते हैं. सोते समय या आराम करते समय भी उनकी इन्द्रियाँ खतरे के प्रति सचेत रहती है.

26. खरगोश केवल अपनी नाक से ही सांस लेते हैं. मुँह से सांस लेना मुश्किल होने के कारण नाक बंद हो जाने की स्थिति उनके लिए गंभीर हो सकती है.

27. अधिकांश खरगोशों को तैरना पसंद नहीं है, हालांकि वे शारीरिक रूप से तैरने में सक्षम होते हैं. Marsh Rabbit कुशल तैराक होता है. वह पानी और दलदली वातावरण के पास निवास करता है.

28. खरगोश 2 फीट से अधिक ऊँचाई तक हवा में कूद सकते हैं. कईयों को तो लगभग 4 फीट ऊँचाई तक कूदते हुए देखा गया है. क्षैतिज (Horizontal) दूरी में वे 9 फीट तक की दूरी तक कूद सकते हैं.

29. खरगोश उदास हो सकते हैं या अवसाद (depression) में जा सकते हैं. वे अपने साथियों के चले जाने पर शोक मनाते हैं. यदि उनके साथ खेला न जाये, तो वे अकेलापन महसूस करते हैं. अवसाद (depression) में घिरा खरगोश खाना, पीना और संवरना बंद कर देता है.

30. अवसाद (Depression) में घिरे खरगोश अपने फ़र नोच सकते हैं, अपने पैरों को चबा सकते हैं या अन्य तरीकों से स्वयं को नुकसान पहुँचा सकते हैं. यदि पालतू खरगोशअचानक खुद को चोट पहुँचाना शुरू कर दे, तो हो सकता है कि उसे आस-पास के वातावरण को कोई चीज तनाव दे रही है.


31-40 Interesting Rabbits Information In Hindi


31. खरगोश शाकाहारी होते हैं. हालांकि भोजन की उपलब्धतता कम होने पर कुछ जंगली खरगोशों को मृत जानवरों के अवशेष खाते देखा गया है.

32. जंगली खरगोशों बहुत पेटू होते हैं और अपने जागने का अधिकांश समय खाद्य पदार्थों की खोज और खाने में व्यतीत करते हैं. कुछ स्थानों पर खरगोशों का बड़ा परिवार एक ही रात में खेत में खड़ी पूरी फसल खा सकता है.

33. खरगोशों को शर्करा युक्त पदार्थ या मानव के खाद्य पदार्थ नहीं खिलाना चाहिए. वे इन चीजों को सुरक्षित तरीके से पचाने में असमर्थ होते हैं और उन्हें गैस की समस्या हो सकती है. लंबे समय तक जंक फ़ूड खिलाये जाने पर वे कुपोषण से मर सकते हैं.

34. आपको जानकर आश्चर्य होगा कि खरगोश (Rabbit) अपना मल खाते है. खरगोश का पाचन तंत्र बहुत अधिक विकसित नहीं होता. इसलिए बहुत से पोषक तत्व मल द्वारा शरीर से बाहर निकल जाते हैं, जिन्हें वे दोबारा खाकर पचाते हैं और पोषण प्राप्त करते हैं. ये गाय द्वारा की जाने वाली जुगाली की तरह की प्रक्रिया कही जा सकती है.

35. कुछ लोग सोचते हैं कि खरगोश निशाचर हैं. लेकिन यह गलत है. निशाचर प्राणियों में tapetum lucidum होता है, जो खरगोशों में नहीं पाया जाता. इसके बिना खरगोशों के लिए घने अंधेरे में ठीक से देख पाना मुश्किल या असंभव होता है.

36. खरगोश क्रेपसकुलर (crepuscular) होते हैं. इसका अर्थ है कि वे मध्य-प्रकाश की स्थिति जैसे भोर और शाम में सबसे अधिक सक्रिय हैं. वे दिन का उजाला या बहुत अंधेरी रात पसंद नहीं करते हैं. हालांकि आवश्यकता पड़ने पर वे उन परिस्थितियों में भी रह सकते हैं.

37. खरगोश समूह में रहने वाला जीव है. इनके समूह को ‘herd’ कहा जाता है. खरगोश एकांत में असुरक्षित महसूस करते हैं. उनका विकास तब बेहतर होता है, जब उन्हें अन्य खरगोशों या घरेलू पालतू जानवरों के साथ रखा जाता है.

38. जंगली खरगोशों सामूहिक रूप से भूमिगत मांद में रहते हैं. उनकी कई मांद एक-दूसरे से जुड़ी हुई होती है और कॉलोनी का निर्माण करती है, जिसे ‘rabbit warren’ कहते हैं.

39. खरगोशों की सबसे बड़ी भूमिगत कॉलोनी यूरोप (Europe) में देखी गई थी, जहाँ 450 खरगोश रहा करते थे. वह अपने आप में इंजीनियरिंग कला का एक बेजोड़ नमूना था. लंबी दूरी तक फैली उस कॉलोनी में 2,000 प्रवेश द्वार थे.

40. खरहा (Hare) और ख़रगोश (Rabbit) एक नहीं होते. Hare जमीन से ऊपर घास के घोंसले में रहते हैं जबकि Rabbit भूमिगत मांद में रहते हैं. जन्म के बाद Hares की आँखें खुली होती है और वे जन्म के कुछ मिनट बाद ही चलने लगते हैं. वहीं जन्म के बाद rabbit अंधे होते हैं और उनके शरीर पर बाल नहीं होते.


41-50 Interesting Facts About Rabbit In Hindi


41. घोड़े और खरगोश में काफ़ी एकरूपता होती है. आकार के अंतर को अनदेखा किया जाये, तो घोड़े और खरगोश की आँखें, कानों और दांतों में समानता होती है. उनका आहार और व्यवहार भी एक समान होता है.

42. मादा खरगोश का गर्भकाल लगभग 30 दिन का होता है.

43. मादा खरगोश एक बार में 5 से 8 बच्चों को जन्म दे सकती हैं. वह आजीवन प्रजनन करने में सक्षम होती है.

44. बच्चों को जन्म देने के बाद मादा खरगोश अपने फर तोड़कर मांद के भीतर बिछाती है. नवजात खरगोशों को जीवन के पहले कुछ दिनों तक पर्याप्त गर्म स्थान की आवश्यकता होती है. फ़र मांद को गर्म रखने का काम करते हैं.

45. जन्म के समय खरगोश के बच्चों की आँखें बंद होती हैं और उनके शरीर पर बाल नहीं होते.

46. खरगोश का विकास बहुत तेजी से होता है. जन्म के लगभग 10 दिन बाद उनकी आँखें खुल जाती है और 3 से 4 सप्ताह के भीतर ही वे इधर-उधर दौड़ने लगते हैं.

47. अधिकांश स्तनधारियों के विपरीत मादा ख़रगोश अपने बच्चों को दिन में सिर्फ़ एक बार दूध पिलाती हैं. खरगोश का दूध समृद्ध और पौष्टिक होता है. चूंकि मादा खरगोश को भोजन के लिए बहुत अधिक समय और ऊर्जा खर्च करनी पड़ती है और उसका आहार भी बहुत पौष्टिक नहीं होता है, इसलिए उनका शरीर बच्चों के लिए सुपर दूध का उत्पादन करता है, ताकि उसे कम मात्रा में भी सारा पोषण मिल सके.

48. मादा खरगोश अपने बच्चों के साथ बहुत कम समय बिताती है. यह उपेक्षा नहीं है. अधिकांश समय उनसे दूर रहकर वास्तव में वे शिकारी जीवों से उनकी रक्षा कर रही होती हैं.

49. लगभग 6 माह का होने पर खरगोश यौन परिपक्वता प्राप्त कर लेते हैं.

50. खरगोश के दौड़ने की रफ़्तार सामान्यतः 25 से 45 मील/घंटे होती है.


51-60 Interesting Rabbits Facts In Hindi


51. दुनिया में सबसे तेज़ खरगोश जैकरैबिट्स (Jackrabbits) हैं. उनकी रफ़्तार 45 मील/घंटे तक होती है.

52. दुनिया में सबसे धीमे खरगोश Snowshoe Hare हैं. उनकी रफ़्तार लगभग 25 मील/प्रति घंटे होती है.

53. सबसे ज्यादा शोर करने वाली खरगोश मेक्सिको (Mexico) का Volcano Rabbit है. यह दुनिया का दूसरा सबसे छोटा खरगोश भी है, जिसका वजन मात्र 390-600 ग्राम होता है.

54. दुनिया के सबसे छोटे खरगोश Pygmy Rabbits हैं. उत्तरी अमरीका (North America) में पाए जाने वाले इन खरगोशों का वजन 375 से 500 ग्राम तक होता है और शरीरिक लंबाई 23.5 से 29.5 से.मी. तक होती है. मादा आकार में नर से कुछ बड़ी होती है. छोटे होने के बाद भी ये खरगोश अविश्वसनीय रूप से तेज़ और फुर्तीले होते हैं.

55. दुनिया में सबसे बड़े पालतू खरगोश Flemish Giant Rabbit हैं, जिनका औसतन वजन 15 पौंड होता है. हालांकि कई बार इनका वजन 22 पौंड तक भी देखा गया है. इसकी लंबाई 4 फीट 3 इंच तक हो सकती है.

56. खरगोश की सबसे ज्यादा संकटग्रस्त प्रजाति Riverine Rabbit है. वर्तमान में 400 से भी कम Riverine Rabbit बचे हैं. यह दुनिया में सबसे ज्यादा लुप्तप्राय स्तनधारियों में से भी माने जाते हैं.

57. खरगोशों की सबसे दुर्लभ प्रजाति Omilteme Rabbit है. वे केवल मैक्सिको में पाए जाते हैं और वह भी बहुत छोटे क्षेत्र में. इनकी संख्या अज्ञात है. ऐसी भी आशंका जताई जाती है कि शायद ये विलुप्त हो चुके हैं.

58. Cottontail Rabbits समूह में आकार में सबसे बड़े ख़रगोश Swamp Rabbits होते हैं. उनका वजन 6 पाउंड तक हो सकता है. इतने वजन के बाद भी वे लगभग 45 मील/घंटे की रफ्तार से दौड़ सकते हैं.

59. गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड (Guinness Book Of World Record) के अनुसार सबसे लंबी आयु तक जीवित रहने वाला खरगोश तस्मानिया, ऑस्ट्रेलिया (Tasmania, Australia) का Flopsy था, जो 6 अगस्त 1964 को पकड़ा गया था और 18 वर्ष 10 माह तक जीवित रहा था.

60. गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड (Guiness Book Of World Records) के अनुसार वर्तमान में सबसे लंबी उम्र का जीवित ख़रगोश Illinois, USA का Mick है, जो 17 वर्ष का है.


61-70 Interesting Facts About Rabbit In Hindi


61. सबसे लंबी दूरी तक छलांग लगाने का विश्व रिकॉर्ड डेनमार्क के ‘yubo’ नामक खरगोश के नाम है. उसने यह रिकॉर्ड 12 जून 1999 को 3 मीटर (9 फ़ीट 9.6 इंच ) की दूरी तक छलांग लगाकर बनाया था.

62. सबसे ऊँचा कूदने का विश्व रिकॉर्ड डेनमार्क के ‘Mimrelunds Tosen’ नामक खरगोश के नाम है. जिसने 28 जून 1997 को 99.5 सेमी (39.2 इंच) की ऊँचाई तक कूदकर यह रिकॉर्ड बनाया था.

63. सबसे लंबे कानों वाला खरगोश California, USA का ‘निप्पर्स गेरिनिमो’ (Nipper’s Geronimo) नामक English Lop प्रजाति का खरगोश था. उसके कान की लंबाई रिकॉर्ड 79 सेमी (31.125 इंच) थी. सामान्यतः खरगोशों के कान की लंबाई 4 इंच तक होती है.

64. खरगोश द्वारा एक बार में सबसे ज्यादा बच्चे पैदा करने का रिकॉर्ड 24 बच्चों का है. यह रिकॉर्ड दो बार वर्ष 1978 और 1999 में बना था.

65. खरगोशों की अधिकांश प्रजातियाँ समय के साथ तेजी से विकसित हुई हैं. लेकिन Amami Rabbit नामक प्रजाति अब भी अपने प्राचीन पूर्वजों के काफ़ी निकट है. इन्हें “जीवित जीवाश्म” (living fossil) भी कहा जाता है. ये सिर्फ जापान के दो द्वीपों पर पाए जाते हैं. अत्यधिक बाल (फ़र) होने के कारण ये काफ़ी भारी होते हैं.

66. दुर्लभ Sumatran Striped Rabbit केवल इंडोनेशिया के सुमात्रा द्वीप के बरिसन पहाड़ियों के जंगलों में पाए जाते हैं. वैज्ञानिकों ने मानना है कि खरगोश की यह प्रजाति विलुप्ति के कगार पर है.

67. संयुक्त राज्य अमेरिका (USA) में खरगोश तीसरा सबसे लोकप्रिय पालतू जानवर है. खरगोशों की देखभाल करना आसान है और वे कई प्रकार के आकार और रंगों में आते हैं. उनका आकर्षक रूप उन्हें पालतू जीव के रूप में लोकप्रिय बनाता है.

68. खरगोश को प्रशिक्षित किया जा सकता है. वे बिल्ली की तरह litter box का उपयोग करना सीख सकते हैं. वे puppy potty pads का उपयोग करना या pet door के माध्यम से बाहर जाना भी सीख सकते हैं.

69. नर खरगोश को मादा खरगोशों की तुलना में प्रशिक्षित करना अधिक कठिन होता है, क्योंकि वे बहुत अधिक मूत्र उत्सर्जित करते हैं.

70. संकट का इशारा करने या शिकारी जीव के बारे में अपने साथियों को चेतावनी देने के लिए खरगोश अपने पिछले पैरों को जमीन पर मारने लगते हैं.


71-80 Interesting Information About Rabbit In Hindi


71. खरगोशों को खिलौने पसंद होते हैं. वे घास की चटाई, टोकरी और बक्से को चबाना पसंद करते हैं. कुछ खरगोश गेंदों का पीछा करने के खेल का आनंद भी लेते हैं. लुका-छिपी (hide and seek) भी खरगोशों के लिए एक मज़ेदार खेल है. कंबल के नीचे या किसी बॉक्स में खरगोश की पसंदीदा खाने की चीज़ छिपा दें और उसे खोजते हुए देखे. वे इस खेल का भरपूर आनंद लेते हैं.

72. चबाना खरगोशों की प्रकृति है. वे तार और फर्नीचर भी चबा जाते हैं. इसलिए खरगोशों को बिना निगरानी के नहीं छोड़ना चाहिए, अन्यथा उनकी जान ख़तरे में पड़ सकती है.

73. खरगोश याद रखते हैं कि उनके साथ कैसा व्यवहार किया गया था और वे उसके अनुसार ही आपसे व्यवहार करेंगे.

74. पालतू खरगोश डिमांडिंग हो सकते हैं. एक बार जब वे अपने मालिक से घुल-मिल जाते हैं और उन पर भरोसा करने लगते हैं, तो आश्चर्यजनक रूप से जिद्दी भी हो सकते हैं. कुछ पालतू खरगोश कई बार अपने भोजन को विशेष बर्तनों में परोसे जाने पर जोर देते हैं.

75. 1979 में एक Swamp Rabbit राष्ट्रपति जिमी कार्टर (Jimmy Carter) की नाव तक तैर कर पहुँच गया था और अंदर जाने की कोशिश करने लगा था. लोगों ने इसे ‘किलर रैबिट’ (Killer Rabbit) की संज्ञा दी थी. संभवतः वह राष्ट्रपति को चोट पहुँचाने के उद्देश्य से नाव में घुसने के प्रयास में नहीं था. बल्कि शायद किसी शिकारी जीव से बचकर भागने की कोशिश कर रहा था.

76. दुनिया में कई स्थानों पर खरगोशों को प्रजनन क्षमता का प्रतीक (symbol of fertility) माना जाता है. ऐसा उनके छोटे गर्भधारण (केवल 30 दिन) और लगभग 5 से 8 बच्चे एक साथ पैदा करने की क्षमता के कारण है.

77. जापानी संस्कृति में माना जाता है कि खरगोश चंद्रमा पर रहते हैं. यह मान्यता शायद इसलिए है क्योंकि चंद्रमा को देखने पर ऐसा लगता है मानो उसके बाईं ओर एक खरगोश अपने आगे के दो पैरों पर खड़ा है.

78. South-West England के एक देश Dorset एक आइलैंड Isle of Portland में ख़रगोश को अशुभ माना जाता है. वहाँ लोग उसका नाम लेना तक नापसंद करते हैं. वहीं यूरोप (Europe) के कई हिस्सों और उत्तरी अमेरिका (North Amercia) में खरगोश को शुभ माना जाता है.

79. यूरोप के कई हिस्सों में सौभाग्य का प्रतीक मानकर लोग ख़रगोश की टांग अपने गले में पहनते हैं.

80. यूरोपियन खरगोश (Eurpean Rabbit) 18वीं शताब्दी में ऑस्ट्रेलिया में लाये गए. जिनकी संख्या इतनी बढ़ गई कि वे फ़सलों के लिए ख़तरा बन गए. खरगोशों की संख्या नियंत्रित करने के कई असफ़ल तरीके आज़माने के बाद वर्ष 1950 में myxoma virus जनित myxomatosis रोग से उन्हें प्रभावित कर लगभग 500,000,000 खरगोशों को मार दिया गया.


81-85 Interesting Facts About Rabbit In Hindi


81. प्रतिवर्ष लगभग 1 बिलियन खरगोश मांस और फ़र के लिए मार दिए जाते हैं.

82. खरगोशों से ऊन भी प्राप्त किया जाता है. खरगोशों की ब्रीड Angora Rabbit और Jersey Wooly को ऊन के लिए पाला जाता है. Angora Rabbit प्रतिवर्ष लगभग ३ पौंड ऊन उत्पादित करते हैं, जिनका इस्तेमाल स्वेटर, ग्लव्स और स्कार्फ़ बनाने में किया जाता है.

83. खरगोश का मीट ‘red meat’ न होकर ‘white meat’ होता है. अन्य जानवरों के मीट की तुलना में यह आसानी से पच जाता है.

84. दुनिया में सबसे ज्यादा खरगोश चीन में हैं, लगभग 235 मिलियन.

85. खरगोश के मांस का सबसे बड़ा उत्पादक चीन (China) है, जो दुनिया के 40% खरगोश के मांस का उत्पादन करता है.


Friends, आशा है आपको ‘85 Interesting Information Of Rabbit In Hindi‘ रुचिकर लगी होगी. Essay On Rabbit In Hindi जानकारी पसंद आने पर आप इसे Like कर ज़रूर करें. और अपने Friends को Share भी करें. अन्य Rochak Thathy पढ़ने के लिए हमें Subscribe कर लें. Thanks.

Read More Animal Facts In Hindi :

लोमड़ी के बारे में 51 रोचक तथ्य 

भेड़िये के बारे में 65 रोचक तथ्य 

बंदर के बारे में ७५ रोचक तथ्य 

ऊँट के बारे में ७१ रोचक तथ्य 

जिराफ़ के बारे में ६५ रोचक तथ्य 

Leave a Comment